ताज़ा खबर

गंजेपन से परेशान होकर आत्म ह्त्या की

  • मदुरै. पूरी दुनिया के ज्यादातर लोग बाल झड़ने या गंजे होने से परेशान हैं. ये ऐसी दिक्कत है जिससे ज्यादातर लोग पीड़ित हैं. मदुरै के एक युवा साफ्टवेयर इंजीनियर ने मदुरै. पूरी दुनिया के ज्यादातर लोग बाल झड़ने या गंजे होने से परेशान हैं. ये ऐसी दिक्कत है जिससे ज्यादातर लोग पीड़ित हैं. मदुरै के एक युवा साफ्टवेयर इंजीनियर ने गंजेपन से परेशान होकर ऐसा कदम उठाया कि लोग सन्न रह गए.
    दरअसल शहर के जयहिंदपुरम निवासी 27 साल के आर.मिथुन राज पेशे से बैंगलुरु की साफ्टवेयर कंपनी में इंजीनियर थे. उनको लंबे अरसे से स्किन प्राब्लम थी जिसके चलते उनके बाल झड़ रहे थे. उन्होंने बालों को झड़ने से रोकने के लिए कई सारी दवाईयां औऱ इलाज किया लेकिन उनसे कोई फायदा नहीं हुआ. जिससे वे बेहद परेशान रहने लगे थे.
    इंफोसिस जैसी बेहद प्रतिष्ठित कंपनी में काम कर चुके मिथुन के पिता का देहांत कुछ समय पहले हो गया था औऱ उनका परिवार उनकी शादी के लिए रिश्ते खोज रहा था. झड़ते बालों की वजह से मिथुन को मनपसंद जीवनसाथी नहीं मिल पा रही थी. इस बारे में उन्होंने अपनी मां से भी कई बार बात की थी. मिथुन की मां ने उनको इस समस्या से परेशान न होने के लिए कई बार समझाया. उनकी मां मंदिर पूजा के लिए गई थी और मिथुन घर पर अकेले थे. जब उनकी मां घर वापस लौटी तो देखा कि मिथुन ने पंखे से लटककर जान दे दी है. उनके घरवालों ने आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया लेकिन वहां उनको मृत घोषित कर दिया गया.
    बाल झड़ना एक आम समस्या है लेकिन इस समस्या से कोई इस हद तक परेशान हो जाए कि वो अपनी जान दे दे, ये अपने किस्म का पहला मामला है जिसमें एक पढ़े लिखे और समझदार व्यक्ति ने बाल झड़ने की समस्या से परेशान होकर अपनी जान दे दी.गंजेपन से परेशान होकर ऐसा कदम उठाया कि लोग सन्न रह गए.
    दरअसल शहर के जयहिंदपुरम निवासी 27 साल के आर.मिथुन राज पेशे से बैंगलुरु की साफ्टवेयर कंपनी में इंजीनियर थे. उनको लंबे अरसे से स्किन प्राब्लम थी जिसके चलते उनके बाल झड़ रहे थे. उन्होंने बालों को झड़ने से रोकने के लिए कई सारी दवाईयां औऱ इलाज किया लेकिन उनसे कोई फायदा नहीं हुआ. जिससे वे बेहद परेशान रहने लगे थे.
    इंफोसिस जैसी बेहद प्रतिष्ठित कंपनी में काम कर चुके मिथुन के पिता का देहांत कुछ समय पहले हो गया था औऱ उनका परिवार उनकी शादी के लिए रिश्ते खोज रहा था. झड़ते बालों की वजह से मिथुन को मनपसंद जीवनसाथी नहीं मिल पा रही थी. इस बारे में उन्होंने अपनी मां से भी कई बार बात की थी. मिथुन की मां ने उनको इस समस्या से परेशान न होने के लिए कई बार समझाया. उनकी मां मंदिर पूजा के लिए गई थी और मिथुन घर पर अकेले थे. जब उनकी मां घर वापस लौटी तो देखा कि मिथुन ने पंखे से लटककर जान दे दी है. उनके घरवालों ने आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया लेकिन वहां उनको मृत घोषित कर दिया गया.
    बाल झड़ना एक आम समस्या है लेकिन इस समस्या से कोई इस हद तक परेशान हो जाए कि वो अपनी जान दे दे, ये अपने किस्म का पहला मामला है जिसमें एक पढ़े लिखे और समझदार व्यक्ति ने बाल झड़ने की समस्या से परेशान होकर अपनी जान दे दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *