ताज़ा खबर

ऑनलाइन जुआ खेलने का चस्का

रायपुर। युवाओं के नशीले पदार्थों के सेवन और अपराध की गिरफ्त में आने की समस्या बनी ही हुई है, अब इन्हें ऑनलाइन जुआ खेलने का चस्का भी लग रहा है। नए-नए गेम्स में घंटों जुआ खेलकर पैसे कमाने की कोशिश में लगे हुए हैं।

किसी भी मोबाइल शॉप पर पैसे देकर आईडी में बैलेंस डलवा लेते हैं और इन पैसों से वह दिन-रात ताशपत्ती का जुआ रमी और पोकर, सर्कल खेलने में लगे रहते हैं। जानकारों का कहना है कि यह सबसे बड़ा ऑनलाइन जुआ है।

इन सॉफ्टवेयर की विशेषता है यह है कि इसमें गेम खेलने वाले कभी भी जीत नहीं पाते। हाल ही में ब्लूव्हेल गेम्स की वजह से कई युवा-बच्चे मौत के मुंह में समा गए, अब ऑनलाइन जुए से जेब के पैसे तेजी से खाली हो रहे हैं, जेब खर्च और स्कूल- कॉलेज की फीस के लिए घर से मिले पैसे ऑनलाइन जुआ में बर्बाद कर रहे हैं।

पॉइंट मिलने के बाद भी नहीं है जीत की संभावना

कॉलेज स्टूडेंट्स इन खेलों में बड़ी तादाद में पैसा फूंका रहे हैं। महिलाएं तक इनकी गिरफ्त में आ रही हैं। इस खेल के प्रथम चरण में दस रुपए से लेकर दस हजार रुपए तक दांव लगा सकते हैं। दूसरे चरण में एक लाख रुपए तक का गेम खेल सकते हैं, पर इसमें पॉइंट मिलने के बाद भी जीतने की संभावना नहीं रहती। इसके बाद भी स्कूल-कॉलेज स्टूडेंट्स इन गेम्स की ओर तेजी से आकर्षित हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *