ताज़ा खबर

पुलिस की आँखों में झोंका मिर्च पाउडर, फिर हुआ कुछ ऐसा…

लखनऊ : राजधानी के हजरतगंज चौराहे पर अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रही आंगनबाड़ी वर्कर्स पर पुल‍िस ने जमकर लाठ‍ियां बरसाई। पुलिस के लाठीचार्ज में कई आंगनबाड़ी घायल हो गईं, जिन्हें हॉस्प‍िटल में एडम‍िट कराया गया। बताया जा रहा है कि प्रदर्शन के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अचानक उग्र हो गईं। नोकझोंक के बाद उन्होंने पुलिस पर पथराव किया और मिर्च पाउडर फेंका। इससे पुलिस भड़क गई और लाठीचार्ज कर दिया। बीते 24 घंटे में पुलिस ने कई बार आंगनबाड़ी वर्कर्स पर लाठीचार्ज किया है। इसके बावजूद अभी भी हजारों आंगनबाड़ी वर्कर्स राजधानी के जीपीओ पार्क में जमा हैं।
क्यों उग्र हुआ आंगनबाड़ी वर्कर्स का आन्दोलन…
-आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का प्रदर्शन पिछले 15 दिनों से सभी जिलों में चल रहा है, लेकिन सोमवार को अलग-अलग जिलों से तकरीबन 10 हजार वर्कर्स राजधानी में इकट्ठा हुईं।
-हजरतगंज के जीपीओ पार्क में ये आंगनबाड़ी वर्कर्स धरना दे रही हैं। इस दौरान आंगनबाड़ी वर्कर्स की कुछ नेताओं ने अधिकारियों से मुलाक़ात की, लेकिन उन्होंने इनकी मांगों को सिरे से खारिज कर दिया। जिसके बाद उनका प्रदर्शन उग्र हो गया। इसके बाद पुलिस ने संगठन की कुछ लीडर्स को गिरफ्तार कर लिया।
सोमवार की सुबह 8 बजे हजरतगंज के जीपीओ पार्क में आंगनबाड़ी वर्कर्स का जमावड़ा लगना शुरू हुआ। लगभग 8 हजार आंगनबाड़ी वर्कर्स पार्क में इकट्ठा हो गईं। कई थानों की फ़ोर्स समेत भारी संख्या में पुलिस बल पहुंची। उसके बाद संगठन की लीडर्स ने अधिकारियों से मुलाक़ात की, लेक‍िन मांग खारिज हो गई। फिर आंगनबाड़ी वर्कर विधानसभा की ओर बढ़ने लगे| फिर डेढ़ बजे पुलिस ने प्रदेश अध्यक्ष गीतांजलि मौर्या, प्रदेश महामंत्री प्रभावत‍ि, प्रदेश कोषाध्यक्ष जरीना खातून, गीता पाण्डेय और आशा बौद्ध को हिरासत में लिया। तकरीबन 8 हजार आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने हजरतगंज चौराहे के पास विधानसभा मार्ग में चक्काजाम कर द‍िया। दर्जनों गाड़ियां जाम में फंस गई। इसके बाद भारी संख्या में पुलिस बल का पहुंच गई। फिर वर्कर्स की पुलिस से झड़प हुई और धक्का-मुक्की के दौरान कई वर्कर्स घायल हो गई और कईयों को पुलिस ने हिरासत में ले ल‍िया।
एसडीम और एसपी सिटी ने वर्कर्स को समझाने की कोश‍िश, लेक‍िन प्रयास विफल रहा।
इस विफल प्रयास के बाद पुलिस ने वाटर कैनन मंगाकर पानी फ‍िंकवाया। वाटर कैनन के पानी फेकने पर एक महिला की हालत बिगड़ गई, ज‍िसे हॉस्प‍िटल भ‍िजवाया गया। हजारों आंगनबाड़ी वर्कर्स सड़क पर लेट गईं और सरकार के ख‍िलाफ लगातार नारेबाजी चलती रही। एसपी सिटी और कई सर्किल के सीओ मौके पर पहुंचे और फिर से समझाने का प्रयास क‍िया, लेक‍िन असफल रहे।
इसके चलते रात 1 बजे पुलिस ने जबरन महिलाओं को घसीटकर बसों में भरना शुरू किया। इस बीच पुलिस और आंगनबाड़ी वर्कर्स में धक्का-मुक्की चलती रही। पुलिस ने लाठियां भांजी, ज‍िसमें कई घायल हो गए। इसके बाद बीजेपी कार्यालय से हजरतगंज आने वाली रोड खाली कराकर यातायात बहाल क‍िया गया। रात 3 बजे पुलिस ने फिर से एक कैनन पानी फिंकवाया, ज‍िसमें कई महिलाएं घायल हो गईं।आखिरकार भीड़ पर काबू पा लिया गया | पुलिस आगे की कार्यवाही कर रही है |
Source : web

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *